Waht is 4G: 4G क्या है ?

4G

असल में 4G एक fourth-generation cellular data technologies का collection होता है

ये सभी technology के मामले में succeeds करता है 3G को और इसे “IMT-Advanced,” या “International Mobile Telecommunications Advanced” के साथ जोड़ा गया है.

4G लोगों के बिच सेवा available हुआ वो भी early 2005 में वो भी South Korea में उस समय इसे WiMAX के नाम से जोड़ा गया था. फिर अगले कुछ वर्षों में ऐसे कई ऐसे यूरोपीय देशों में भी release कर दिया गया था.

वही पर ये सन 2009 में United States में भी available हुआ था ,जहाँ की Sprint वो पहला cellular network बना था जो की 4G cellular network offer भी करता था .

सभी 4G standards को ये जरुर ही confirm करना पड़ता है की वो एक set of specifications को follow कर सके जिन्हें की International Telecommunications Union के द्वारा बनाया गया होता है .

उदाहरण के तौर पर बता रहे है की ये सभी 4G technologies की peak data transfer rates at least 100 Mbps से भी ज्यादा होनी ही चाहिए. वही actual download और upload speeds स्पीड के ऊपर vary कर सकता है signal strength और wireless interference के आधार पर ही किया जाता है. खास तौर पर ये पाया गया है की 4G data transfer rates सच में cable modem और DSL connections की speed को बहुत ही आसानी से surpass कर सकता है.

हम जानते है की 3G के तरह ही हम बता रहे है की, 4G की भी कोई एक single standard नहीं होती है. बल्कि, अलग अलग cellular providers उपयोग करते हैं वो भी अलग अलग technologies का अपने 4G requirements को भी conform करने के लिए.

हम जानते है की और आपको उदाहरण के तौर पर हम आपको बता है की, WiMAX एक बहुत ही popular 4G technology है जिसे की Asia और Eastern Europe में बहुत ही उपयोग किया जा रहा है, वही LTE (Long Term Evolution) बहुत ही ज्यादा Scandinavia और United states में popular है

Leave a Reply