सही में कोरोना वायरस का इलाज है या नहीं?

ये बात सही है और हम सभी जानते ही हैं की कोरोना वायरस जितना ज्यादा खतरनाक और दर्दनाक बीमारी है. वही लेकिन ये बात है की कोरोना वायरस का कोई भी इलाज है या नहीं इसके बारे में कोई भी सठिक जवाब किसी के पास भी उपलब्ध नहीं है. ऐसा इसलिए क्यूंकि अभी के लिए भले ही इस बीमारी का कोई इलाज हॉस्पिटल में मवजुद नही हो लेकिन आने वाले समय में जरुर इस बीमारी का सही और सटीक इलाज सभी के लिए उपलब्ध होने वाला है.

Corona virus ka ilaj kya hai

ये बात आप लोगो को अच्छी तरीके से समझ लेना है की कोरोना वायरस किसी स्वस्थ इन्सान को ज्यादा हानि नहीं पहुंचा सकता है. लेकिन ये केवल उन लोगों को अपना खाश निशाना बनाता है जो की पहले से काफी तरह से बीमार हैं या फिर जिन्हें रोग प्रतिरोध की क्ष्य्मता काफी मात्रा कम है या नहीं है. याने की बूढ़े व्यक्ति की ज्यादा चपेट में लेता है. अब इससे ये भी मत मान लेना की स्वस्थ व्यक्ति को भी कोरोना वायरस पीड़ित नहीं कर सकता है. लेकिन हैं इसमें उम्मीद काफी कम लगी रहती है. इसलिए आज मैंने सोचा की क्यूँ न आप लोगों को कोरोना वायरस का उपचार इस विषय में पूरी जानकारी अच्छे से प्रदान कर सकू जिससे आपके सभी सवालों के जवाब यहाँ पर मिल जायेंगे.

क्या कोरोना वायरस का सही में इलाज है?

कोरोना वायरस का सही में इलाज अभी के समय में किसी के भी पास मावजुद नहीं है. वही सच बात तो यह है की ऐसी कोई भी उपचार मावजुद नहीं है जो की इन सभी कोरोना वायरस को काबू में कर सकें, जिनमें ये भी शामिल हैं SARS और MERS.

वही हमारे देश और दुसरे देशों के वैज्ञानिक इस COVID-19 का इलाज ढूंडने में काफी ज्यादा व्यस्थ दिख रहे हैं. वही उम्मीद हैं की बहुत ही जल्द वो अपने इस मुहीम में कामयाब भी हासिल करेंगे.

सही मायने में कोरोना वायरस का इलाज क्या संभव नहीं है?

वैसे इस बारे में अलग-अलग doctors का अलग-अलग अपना मत दिया जा रहा है . जैसे की China, Australia और India (भारत) के कुछ doctors ने ये अपना report किया है की उन्होंने काफी सारे कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों को अच्छे से ठीक कर दिया है और उन्हें घर के लिए छोर भी दिया गया है. इसके लिए जो दवा का इस्तेमाल किया है उन्होंने ऐसे drugs या दवा का उपयोग किया है जिनका उपयोग HIV और malaria को ठीक करने में उपयोग होता है. वही उन्होंने इसमें अपने हिसाब से भी कुछ ऐसे medicines का इस्तेमाल किया है जो की बढ़िया रिजल्ट दिखाई दे रही है. इनमें उन्होंने कुछ herbal medicines को भी शामिल किया गया है.

लेकिन सच्चाई बात तो ये हैं की इन सभी के बारे में कोई पुख्ता साबुत अभी तक मेह्जुद नहीं है जिससे की इन्हें सभी मरीजों पर ये आजमाया जा सके. अभी के समय में लाखों के तादात में लोग इस बीमारी से जूझ रहे हैं और वही दिन प्रतिदिन काफी मात्रा में नए cases भी सामने आ रहे हैं. लेकिन इसमें सबसे बढ़िया बात ये भी है की इस बीमारी के संपर्क में आये लोगों की mortality rate के 3.4 प्रतिशत है जो की काफी अच्छी खबर लगती है. इसलिए हमें बिना कोई चिंता किये बिना Medical Association के तरफ से घोषणा की अपेक्षा करनी चाहिए.

कोरोना वायरस का सही में क्या इलाज है?

अभी के समय की खाश बात करें तब, कुछ ऐसे treatment मैजूद हैं जो उसको focus करते हैं symptoms के तकलीफ को दूर करने में जैसे की : fluids या तरल पदार्थ का सवाल है जिससे की dehydration को अच्छे से कम किया जा सके, वही बुखार को कम करने के लिए medication, और साथ में Oxygen की supply करना वो भी severe cases में किया जा रहा है.

ज्यादातर hospitals में ये बात बताते हैं की किसी भी मरीज को स्वस्थ रखने के लिए कोशिश करें और साथ में उनकी immunity को मजबूत करने के लिए सुझाव देते हैं. इससे होगा ये भी मरीज के शरीर में ज्यादा से ज्यादा antibodies develop कर सके जिससे की वो आसानी सी इस virus से मुकाबला कर सकते हैं और साथ में खुद को इस बीमारी से हमेशा के लिए बचा भी सकते हैं.

कोरोना वायरस के कोई और इलाज क्या क्या है?

अब चलिए हम जानते हैं की कोरोना वायरस के दुसरे इलाज और क्या-क्या है जिसके बारे में आपको जानकारी देने की कोशिश करते है.

  1. 1. कोरोना वायरस के लिए चीनी चिकित्सा परामर्श
  2. जब की हम बात करे रहे है जब चीन में यह कोरोना वायरस की शुरुवात हुए तब से चीन में बहुत सारे cases पाए गए हैं. वही हजारों की संख्या में लोगों को चीन के therapy से भी ठीक भी किया जा चूका है. वही चीन वालों अपने बहुत से मरीजों को एक mixture भी प्रदान करते हैं जिसमें की कुछ herbal remedies और कुछ mainstream antiviral drugs का उपयोग किया जाता है.

चीन के लोगों का मानना है की traditional herbal medicines का उपयोग करने से इससे शरीर का resistance काफी बढ़ता है जो की मरीजों को जल्दी से ठीक होने में मदद करती है.

वैसे तो बात करे तो traditional Chinese medicines को WHO के द्वारा अपनाया जा भी चूका है सन 2018 में, लेकिन western scientists और कुछ doctors का कहना है की अभी भी इस बात को अपनाने पर वो कतई विस्वास नहीं करते हैं. क्यूंकि उन्हें इसमें toxic के अंश मिले होते हैं.

  1. 2. कोरोना वायरस के लिए ऑस्ट्रलियन चिकित्सा परामर्श
  2. ऑस्ट्रेलिया के कुछ Researchers का खाश मानना है की उन्होंने इस बीमारी का इलाज भी निकल चुके हैं. इनकी team का ये भी मानना है की COVID-19 virus को मारने के लिए HIV और anti-malaria drugs का उपयोग भी किया जा सकता है.

Anti-malarial drug chloroquine और HIV-suppressing combination वो भी lopinavir और ritonavir की उपयोग से इंसानों में अच्छे भी कर चुके हैं.

  1. 3. कोरोना वायरस के लिए भारतीय चिकित्सा परामर्श
  2. भारतीय doctors का खाश मानना है की यदि कोरोना वायरस patients को भी ठीक करना है तब ऐसे में HIV, swine flu, और malaria के medicines को एक साथ मिलकर देने से अच्छे परिणाम भी देखे गए हैं.

बहुत से patients इस प्रकार के इलाज से ठीक भी हो गए हैं ऐसा इन कुछ doctors का मानना है.

कोरोना वायरस का इलाज आयुर्वेद परामर्श?

वैसे तो कुछ भारतीय आयुर्वेदिक medicine में कोरोना वायरस के लिए कोई भी इलाज उपलब्ध नहीं है। लेकिन इन आयुर्वेदिक डॉक्टर का ये भी मानना है की यदि मरीज के immune system को बहुत ही बढ़ा दिया जाये तब इससे अच्छे रिजल्ट मरीज के शरीर में भी देख सकते हैं । इन Ayurvedic जड़ी बूटी में भी ये शामिल हैं नीम, gooseberry, कुटकी (एक Nepalese herb), गुदिची या गिलोय और तुलसी। इन सभी का उपयोग करने पर शरीर का immunity बढ़ जाता है और साथ में इससे infection भी काफी दूर हो जाता है।

कोरोना वायरस के लिए मेडिसिन के बारे में

अब चलिए उन सभी drugs के बारे में कुछ जानकारी लेते हैं जिनका उपयोग करने पर इस virus infection से कुछ हद तक निजात भी मिल जा सकता है. वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की ये सभी drugs अभी experimental phase में उपलब्ध हैं. इसी कारणवस इन drugs का उपयोग बिना किसी medical advice से न करें.

Remdesivir: यह एक experimental broad-spectrum antiviral drug है जिसे की सही में Ebola के लिए develop किया गया था, लेकिन ये काफी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए effective parinam निकला है . वैसे इसकी treatment को अभी तक कोई भी इंसानों पर approve नहीं किया गया है.

Chloroquine: यह एक ऐसा drug है जो की एक समय में malaria और autoimmune diseases के उपयोग किया जाता था. वही ये भी काफी effective कारगर शाबित हुई है इस virus के खिलाप वो भी lab experiments में.

Lopinavir और Ritonavir: इस combined drug (Kaletra) का उपयोग किया जाता है HIV और AIDS के खिलाप वो भी सन 2006 से ही दिया जाता है. Chinese researchers का कुछ मानना है की इस combination का उपयोग कर उन्होंने काफी सारे कोरोना वायरस patients को भी ठीक कर दिया है. वही एक South Korea के मरीज को भी इस treatment से उसे बचा लिया गया है.

APN01: इसे early 2000s में Develop किया गया था, वही इस drug का उपयोग SARS के लिए भी किया जाता था. वही ये ड्रग को भी कोरोना वायरस के खिलाप अच्छा प्रदर्शन के किया गया है ऐसा माना जा रहा है.

Favilavir: इस drug का design किया गया था नाक और गले के inflamation को बहुत अच्छे से ठीक करने के लिए. वही इसे China में approve कर दिया भी गया है, वो भी उन लोगों के लिए जिनमें COVID-19 के symptoms भी पाए गए हैं.

Blood Plasma: Japanese drugmaker Takeda Pharmaceutical Co. ने कहा है की उन्होंने एक नए drug को भी बनाया है वो भी कोरोना वायरस से बिलकुल ठीक हुए मरीजों के blood plasma से. उनका मानना है की recovered patients के शरीर से निकले antibodies का उपयोग कर नए मरीजों के immunity को आसानी से बढाया भी जा सकता है. जिससे की उन्हें जल्दी से recover होने में भी आसानी होती है|

कोरोना वायरस का उपचार के सम्बन्ध में

अभी के समय की बात करे तो में ऐसे में कोई भी antiviral medication recommend नहीं किया जाता है वही डॉक्टर के द्वारा जिससे की COVID-19 मरीजों को भी अच्छे से treat किया जा सके. वैसे ऐसे कुछ Treatment जरुर भी हैं जिससे की मरीजों को काफी मात्रा में राहत मिलती जरुर है, लेकिन चलिए उसी के बारे में जानते हैं :

  1. 1. Pain relievers (ibuprofen या acetaminophen)
  2. 2. Cough syrup या medication
  3. 3. Rest करना है
  4. 4. Fluid intake (तरल पदार्थ का सेवन करना)
  5. यदि आपको किसी भी प्रकार की सहायता चाहिए,तो तब ऐसे में आप जल्द से जल्द किसी निकटतम हस्पताल में जा कर संपर्क करें. वही खुदको और अपने परिवार वालों को मरीज के संपर्क में आने से रोके या दूर रहे
    .

कोरोना वायरस की दवा कितने दिनों में बनना संभव है?

मेडिकल शोध के अनुसार कोरोना वायरस की दवा को बनने में कुछ और महीने भी लगने का संभव हैं. ऐसा इसलिए क्यूंकि दवा बनने के बाद भी उन्हें बहुत से test subjects और जानवरों पर भी test किया जाना बाकि होता है. वही ऐसा करने में काफी समय भी लग जाता है. इसके बाद ही कहीं उन्हें हम इंसानों पर भी आजमाया जाता है. फिर से करीब-करीब 3 महीने का समय तो लग जाना तय है.

आज आपने क्या सिखा?

मुझे काफी उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख से कोरोना वायरस का इलाज क्या है जरुर काफी पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहता है की readers को कोरोना वायरस और उसका उपचार के विषय में पूरी जानकारी दी जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जयादा जरुरत ही नहीं परती है.

इससे आपकी समय की काफी बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जाते है. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts या सदेह हो तो या आप ये भी चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार करनी है तब इसके लिए आप नीच comments हमें लिख सकते हैं.

यदि आपको यह post कोरोना वायरस का मेडिसिन के बारे में पसंद आया या कुछ सीखने को आपको मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share जरूर कीजिये.

Leave a Reply