कोरोना वायरस आम लोगो में कैसे फ़ैल रहा है?

कोरोना वायरस आम लोगो में कैसे फ़ैल रहा है? आप और हम जानते है की कोई भी बीमारी को रोकथाम करने का सबसे बढ़िया तरीका यह होता है की ये पता लगाए की आखिर वो बीमारी लोगो में कैसे पहुंच पा रहा है. ऐसे में Coronavirus (COVID-19) को रोकने के लिए हमें यह भी बात भी मालूम होना चाहिए की आखिर ये कोरोना वायरस लोगो के सम्पर्क से कैसे फ़ैल रहा है? इसके फैलने का सही मायने में मुख्य कारण जानने के बाद ही आप और हम मिलकर इसके रोकने के बारे में में मालूम कर पाएंगे.

COVID-19 भले ही एक बहुत ही नयी बीमारी पूरी दुनिया में कहर बरपा रहा है, वही दुनियाभर के लोग,और सभी जगह के डॉक्टर, scientists सभी लोग इस बीमारी के बारे में काफी खोजबीन कर रहे हैं. वो ये खोज कर रहे हैं की आखिर में इस बीमारी की फैलने का महत्वपूर्ण कारण क्या है. ऐसे में आज मैंने सोचा की क्यूँ न आम लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण कैसे फैल जाता है इसका जानकारी आप को दे सकू जिससे की आप भी खुद को और अपने परिवार वालों को काफी सावधान रहने की भी जरुरत है. तो बिना भी कुछ देरी किये चलिए इस लेख को हम अब शुरू करते हैं और इसके बारे जानते हैं की आखिर में कोरोना वायरस लोगो में कैसे संक्रमित कर रहा है?

कोरोना वायरस संक्रमण आम लोगो में कैसे संक्रमित कर रहा है?

corona virus kaise phailata hai

सभी Doctors का और सभी लोगो का खाश मानना है की कोरोना वायरस का मुख्य रूप से एक व्यक्ति से दुसरे तक लोगो में कैसे संक्रमित कर रहा है. ऐसा तभी भी होता है जब कोई पीड़ित व्यक्ति किसी स्वस्थ व्यक्ति के सीधे संपर्क में आता है. यदि पीड़ित व्यक्ति के छींकने या खांसने से पैदा हुए droplets किसी भी स्वस्थ व्यक्ति के मुंह या नाक के संपर्क से शरीर के अंदर चला जाता है तब chances हैं की वो उन्हें अपने साँस के जरिये फेपड़ों तक भी खिंच लेता है, ऐसे में कोरोना वायरस आसानी से लोगो में भी फ़ैल सकता है.

मान ले तो कोरोना वायरस को फैलने की एक और भी खाश वजह ये भी हैं की अगर कोई भी पीड़ित व्यक्ति किसी चीज़ या किसी भी जगह पर touch किया हो तब ये वायरस उस जगह में कुछ घंटो तक आसानी से वो जीवित रहता हैं, वही इसी समय के दौरान अगर कोई स्वस्थ व्यक्ति उस जगह या चीज़ या वस्तु को छू लेता है तब उसे भी COVID-19 होने की पूरी तरह से आप के शरीर में आने की संभावना होती हैं.

कोरोना वायरस एक व्यक्ति से दुसरे लोगो तक इसका संक्रमण कैसे फैलता है?

इस कोरोना वायरस के फैलने का सबसे मुख्य कारण ये भी है की एक व्यक्ति से दुसरे के संपर्क में आने वाले लोगो तक भी फैलता है.

  1. यदि एक पीड़ित व्यक्ति किसी भी स्वस्थ व्यक्ति के पास ज्यादा निकट चला जाता है तब ऐसे में उसे infection होने के काफी संभावना भी बढ़ जाती है.

  2. वही मुहं से निकला हुआ droplets जो की छींकने से या खांसने से मुख्य रूप से निकलता है उससे भी ये स्वस्थ व्यक्ति को पीड़ित करने में काफी हद तक संभव हो जाता है.

क्या ये वायरस किसी भी स्वस्थ व्यक्ति के द्वारा भी फैलाया जा सकता है जो की इस वायरस से पीड़ित न हो?

हां यदि वो स्वस्थ व्यक्ति किसी कोरोना वायरस से दूषित वस्तु को किसी दुसरे स्वस्थ व्यक्ति के निकट ले या सामने आ जाता है तब यह बीमारी आगे फैलने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाता है.

क्या यह कोरोना वायरस किसी भी एक प्रदूषित जगह या वस्तु के छुने से भी फ़ैल सकता है?

ये तो मुमकिन है की अगर आप कोई व्यक्ति किसी ऐसे जगह या वस्तु को छुए जिसमें की COVID-19 वायरस पहले से ही मौजूद हो तब ऐसे में यह वायरस आप तक पहुंच सकता है. क्यूंकि ये छूने पर मुहं, नाक या चेहरे के किसी भी स्थान से हमारे फेपड़ों तक आसानी से चला जाता है. इससे हमें ये बीमार भी लोगो को घर कर सकता है.

यह कोरोना वायरस इतनी आसानी से लोगो में कैसे फ़ैल रहा है?

मुझे लगता है की यह कोरोना वायरस के इतनी आसानी से लोग में फैलने का सबसे मुख्य कारण यह है की अभी तक भी लोग इसे seriuosly नहीं ले रहे हैं. वही चूँकि ये बीमारी मुख्य रूप से छूने से ही बढ़ता है ऐसे में ज्यादा भीड़ वाले इलाकों में ये आसानी से एक व्यक्ति से दुसरे लोगो तक आसानी से पहुँच सकती है.

वही कुछ पीड़ित व्यक्ति सरकार के डर से खुद के इस बीमारी को लोग अभी भी छुपा रहे हैं और साथ में उनकी इस भूल की वजह से वो अपने परिवार वालों को भी साथ में सभी लोगो को भी पीड़ित कर रहे हैं.

कोरोना वायरस की फैलने की पूरी जानकारी हासिल करे?

यह कोरोना वायरस – जिसे की COVID-19 के नाम से भी सब लोग जानते है – ये फैलता है एक व्यक्ति से दुसरे लोगो तक वो भी जो की एक दुसरे के ज्यादा करीब और संपर्क में आते हैं तब.

हमारी छींकने और खांसने से उत्पन्न droplets से यह बीमारी एक व्यक्ति से दुसरे लोगो तक आसानी से चला जाता है, वही यदि इसके droplets किसी ऐसी जगह पर गिरें जिसे की बार-बार उसे touch किया जा रहा हो तब ऐसे में ये उससे भी आसानी से बहुत लोगो में फ़ैल सकता हैं.

वैज्ञानिकों का मानना है की, coughs और sneezes करीब कुछ दूर इसका वायरस तक चले जाते हैं और वही वो जगह पर ये करीब 10 मिनटों तक रहते हैं ऐसे में यदि उसी समय के दौरान कोई स्वस्थ व्यक्ति उसे संपर्क आने के बाद या उसे touch करता है तब ऐसे में उसे भी यह बीमारी होने की पूरी संभावना बढ़ जाती है.

वैसे इस विषय में कोई सठिक या सटीक जानकारी तो नहीं है की ये Virus host के बिना कितनी देर तक ये रह सकती हैं, लेकिन कुछ जानकारों का मानना है की यह कुछ घंटों से लेकर कुछ दोनों तक कही भी जीवित रह सकती हैं.

कोरोना वायरस की ऊष्मायन अवधि कितनी दिन तक होती है?

कोरोना वायरस की incubation period 1 से 14 दिनों तक ही होती हैं. इसका मतलब की इस बीमारी के symptoms पीड़ित के शरीर में 1 से 14 दिनों के साफ साफ पीड़ित के भीतर दिखाई देने लगते हैं.

कोरोना वायरस फैलने का मुख्य कारण क्या हो सकता है ?

मुझे आपलोग से काफी उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख जरुर पसंद आपको आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को कोरोना वायरस के फैलने का कारण क्या है और इसके बारे में पूरी जानकारी आप तक पहुचायी जाये जिससे आप उन्हें किसी दुसरे websites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने में आपको जरुरत ही नहीं पड़ेगी.

इससे आपकी समय की काफी बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सारे information भी मिल जायेंगे. यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts या संदेह हैं या आप भी चाहते हैं की इसमें कुछ और सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments में मुझे लिख सकते हैं.

यदि आपको यह post के बारे में जैसे कोरोना वायरस संक्रमण कैसे फैलता है काफी पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को आप Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share आप जरूर कीजिये ताकि और लोग इसके बारे में जान सके और लोग अपनी जान बचा सके.

Leave a Reply